डॉ. बाबासाहब आंबेडकर की 22 प्रतीज्ञाएं


1. मैं ब्रम्हा, विष्णु, महेश को ईश्वर नहीं मानूंगी/मानूंगा और न उनकी पूजा करूंगी/करूंगा।

 2. मैं राम और कृश्ष्ण को ईश्वर नहीे मानूंगी/मानूंगा और न उनकी पूजा करूंगी/ करूंगा।
 
3. मैं गौरी-गणपति आदि हिन्दू धर्म के किसी देवी-देवताओं को नहीे मानूंगी/ मानूंगा और न
    उनकी पूजा करूंगी/ करूंगा।
 
4. ईश्वर ने अवतार लिया है, इस पर मेरा विश्वास नहीं है।

5. बुद्ध विष्णु का अवतार; यह झूठा और कपटी प्रचार है, ऐसा मैं जान गयी/ गया हूँ।

6. मैं श्राद्ध नहीं करूंगी/ करूंगा, न पिंड-दान करूंगी/ करूंगा।

7. बौद्ध धम्म के विरुद्ध मैं कोई आचरण नहीं करूंगी/ करूंगा।

8. मैं कोई भी क्रिया-कर्म ब्राह्मणों के हाथों नहीं करवाऊंगी/ करवाऊंगा।

9. सभी मनुष्य मात्र समान हैं, ऐसा मैं मानती/ मानता हूँ।

10. मैं समता स्थापित करने के लिए प्रयत्न करूंगी/ करूंगा।

11. मैं बुद्ध के द्वारा बतलाए गए अट्ठंगिक मार्ग का पालन करूंगी/ करूंगा।

12. मैं बुद्ध द्वारा बतलाई गई दस पारमिताओं का पालन करूंगी/ करूंगा।

13. मैं प्राणि-मात्रा के प्रति दया-भाव रखूंगी/ रखूंगा।

14. मैं चोरी नहीं करूंगी/ करूंगा।

15. मैं व्यभिचार नहीं करूंगी/ करूंगा।

16. मैं झूठ नहीं बोलूंगी/ बोलूंगा।

17. मैं सुरा-मेरय आदि मादक-कारक पदार्थों का सेवन नहीं करूंगी/ करूंगा।

18. मैं अपने जीवन को बौद्ध धम्म के तीन तत्वोंः प×ाा(प्रज्ञा), सील और करुणा पर ढालने का प्रयास करूंगी/ करूंगा।

19. मैं मानव-मात्रा के उत्थान के लिए हानिकारक और मनुष्य-मात्रा को ऊंच-नीच माननेवाले
हिन्दू-धर्म को त्यागती/ त्यागता हूँ और बौद्ध धम्म को स्वीकार करती/ करता हूँ।
 

20. मेरा यह पूर्ण विश्वास है कि बुद्ध का धम्म ही एक मात्रा सद्धम्म है। 


21. मैं यह मानती/ मानता हूँ कि आज मुझे नया जीवन मिला है।

22. मैं यह पवित्रा प्रतिज्ञा करती/ करता हूँ कि आज से मैं बुद्ध धम्म के अनुसार आचरण करूंगी/ करूंगा।